Geeta Padho Aage Badho

SKU: G2013
₹135.0
Publisher: Chinmaya Prakashan
ISBN: 978-81-7597-430-2
Language: Hindi
Author: Swami Prashantananda
Binding: Paperback
Tags:
  • Geeta, Vedanta, Spirituality

Description of product

प्रत्येक मानव जीवन में सुख और शांति चाहता है.आगे बढ़ना चाहता है औरो की अपेक्षा अधिक तथा शीघ्र आगे बढ़ना चाहता है.यह हम सबकी सहज स्वाभाविक मांग है.तथापि सभी को उसका उचित उपाय, आगे बढ़ाने का सही मन्तव्य ज्ञात नहीं होता है.परिणामस्वरुप धन-संचय की अन्धी दौड़ में वे सब ऐसे उलझ जाते है की उनका जीवन तनाव ग्रस्त हो जाता है.बुद्धि विक्षिप्त हो जाती है और मनोबल टूटने लगता है.

इन सबसे छूटने का, अपनी स्वाभाविक मांग को पूर्ण करने का,आन्तिरिक विकास का सुनिचित उपाय हमें श्रीमद्भगवत गीता से प्राप्त होता है.उसी का अति सरल व् व्यावहारिक रूप हमें स्वामी प्रशान्तनंदाजी द्वारा विरचित गीता पढ़ो आगे बढ़ो नामक इस पुस्तिका में उपलब्ध है.

User reviews

  0/5