Manas Ke Moti - भाग ३

SKU: M2013
₹260
Publisher: Chinmaya Prakashan
ISBN: 978-81-7597-524-8
Language: Hindi
Author: Swami Subodhananda
Binding: Paperback
Tags:
  • Bhakti,Love, Hindu Culture,Hinduism

Description of product

मानस के मोती - स्वामी सुबोधानंदजी (प्रमुख आचार्य, सांदीपनी हिमालय) के तुलसी रामायण पर किए गए ज्ञान यज्ञाें का संकलन है |

इन ज्ञानयज्ञाें में मानस के आध्यात्मिक, दार्शनिक, साहित्यिक और सामाजिक पहलुओं पर विशेष विवेचना की गई है |

इस तृतीय भाग में पांच प्रसगों का निरूपण है. लक्ष्मण चरित्र, लक्ष्मण गीता (अयोद्या काण्ड), विभीषण गीता (लंका काण्ड), सती पार्वती प्रसंग (बाल काण्ड) और उत्तर काण्ड |

मानस के मोती के सभी भाग यहाँ उपलब्ध हैं - Manas Ke Moti (भाग १ - ४)

User reviews

  0/5