Chatuhshloki Bhagavat (हिंदी)

SKU: C2001
₹36
₹40  (10% OFF)
Sold Out
Publisher: Chinmaya Prakashan
ISBN: 978-81-7957-451-2
Language: Hindi
Author: Swami Tejomayananda
Binding: Paperback
Tags:
  • Bhakti,Love, Hindu Culture,Hinduism

Description of product

भागवत पुराण का सार मात्र चार श्लोकों में समाहित है, जिसे चतुश्लोकी भागवत कहते हैं |

इसमें प्रतिपादन किया गया है कि हम किस प्रकार इसके प्रत्येक श्लोक पर मनन करके भागवत को पूर्णरूप से समझ सकते हैं |

User reviews

  0/5