Sandeepany Sadhanalaya, Saki Vihar Road, Powai, Mumbai 400072 Mumbai IN
Chinmaya Vani
Sandeepany Sadhanalaya, Saki Vihar Road, Powai, Mumbai Mumbai, IN
+912228034980 https://cdn1.storehippo.com/s/5d76112ff04e0a38c1aea158/ms.settings/5256837ccc4abf1d39000001/webp/5dfcbe7b071dac2b322db8ab-480x480.png" vani@chinmayamission.com
978-81-7597-299-5 5e0f2053e9b7fb19768370f0 Dhyan aur Jeevan (हिंदी) https://cdn1.storehippo.com/s/5d76112ff04e0a38c1aea158/ms.products/5e0f2053e9b7fb19768370f0/images/5e201e1784a1312b3b41b491/5e201e0484a1312b3b41b2eb/webp/5e201e0484a1312b3b41b2eb.jpg

अंग्रेजी में पूज्य गुरुदेव कि पुस्तक 'मैडिटेशन एंड लाइफ' बहुत महत्वपूर्ण और प्रसिद्द है | हिंदी के पाठकों कि मांग पर इसे अनुवादित किया गया है |

पूज्य गुरुदेव इस पुस्तकद्वारा हमें हमारे आतंरिक जगत पर नियंत्रणपाने की विधि समझा रहे है | वे पहले ध्यान के तर्क को समझते हुए ध्यान की तकनीक पर चर्चा करते हैं | ध्यान जब हमारी प्रकृति का अविभाज्य भाग बन जाता है, तभी मनुष्य जीवन में परमानन्द और शांति का अनुभव कर सकता है |

[ Meditation and Life ]

D2002
in stock INR 165
Chinmaya Prakashan
1 1

Dhyan aur Jeevan (हिंदी)

SKU: D2002
₹165
Publisher: Chinmaya Prakashan
ISBN: 978-81-7597-299-5
Language: Hindi
Author: Swami Chinmayananda
Binding: Paperback
Tags:
  • Contemplation, Mindfulness, Yoga, Realisation

Description of product

अंग्रेजी में पूज्य गुरुदेव कि पुस्तक 'मैडिटेशन एंड लाइफ' बहुत महत्वपूर्ण और प्रसिद्द है | हिंदी के पाठकों कि मांग पर इसे अनुवादित किया गया है |

पूज्य गुरुदेव इस पुस्तकद्वारा हमें हमारे आतंरिक जगत पर नियंत्रणपाने की विधि समझा रहे है | वे पहले ध्यान के तर्क को समझते हुए ध्यान की तकनीक पर चर्चा करते हैं | ध्यान जब हमारी प्रकृति का अविभाज्य भाग बन जाता है, तभी मनुष्य जीवन में परमानन्द और शांति का अनुभव कर सकता है |

[ Meditation and Life ]

User reviews

  0/5