Sandeepany Sadhanalaya, Saki Vihar Road, Powai, Mumbai 400072 Mumbai IN
Chinmaya Vani
Sandeepany Sadhanalaya, Saki Vihar Road, Powai, Mumbai Mumbai, IN
+912228034980 https://cdn1.storehippo.com/s/5d76112ff04e0a38c1aea158/ms.settings/5256837ccc4abf1d39000001/webp/5dfcbe7b071dac2b322db8ab-480x480.png" vani@chinmayamission.com
978-81-7597-214-8 5e0f2055547075197c7ee9f8 Manah Shodhanam (हिंदी) https://cdn1.storehippo.com/s/5d76112ff04e0a38c1aea158/ms.products/5e0f2055547075197c7ee9f8/images/5e201ae570287b2ad3ebeeb7/5e201ad870287b2ad3ebecd6/webp/5e201ad870287b2ad3ebecd6.png

"मनः शोधनम्" स्वामी तेजोमयानंदजी की मौलिक रचना है| 

इसकी व्याख्या करते हुए स्वामीजी मन व प्रवृत्तियों पर, मनः शुद्धि के उपायों की प्रक्रिया पर और मन के शुद्ध हो जाने के फलस्वरूप प्राप्त लाभ पर सम्यक प्रकाश डालते हैं| वे बताते हैं कि कैसे यह मन हमारी दिनचर्या के बीच से ही, विभिन्न परिस्थितियों में से हमको उठाकर - सैर कराने ले जाता है और फिर हमारे अनजाने ही हमको एक मनोवैज्ञानिक जाल में फँसा देता है और हमको परेशानी में दाल देता है| उक्त तथ्य को जिस स्पष्टता और गहराई से स्वामीजी प्रस्तुत करते हैं वर सचमुच विस्मयकारी है|

M2009
in stock INR 100
Chinmaya Prakashan
1 1

Manah Shodhanam (हिंदी)

SKU: M2009
₹100
Publisher: Chinmaya Prakashan
ISBN: 978-81-7597-214-8
Language: Hindi
Author: Swami Tejomayananda
Binding: Paperback
Tags:
  • Spirituality, Spiritual Knowledge, Philosophy, Awakening

Description of product

"मनः शोधनम्" स्वामी तेजोमयानंदजी की मौलिक रचना है| 

इसकी व्याख्या करते हुए स्वामीजी मन व प्रवृत्तियों पर, मनः शुद्धि के उपायों की प्रक्रिया पर और मन के शुद्ध हो जाने के फलस्वरूप प्राप्त लाभ पर सम्यक प्रकाश डालते हैं| वे बताते हैं कि कैसे यह मन हमारी दिनचर्या के बीच से ही, विभिन्न परिस्थितियों में से हमको उठाकर - सैर कराने ले जाता है और फिर हमारे अनजाने ही हमको एक मनोवैज्ञानिक जाल में फँसा देता है और हमको परेशानी में दाल देता है| उक्त तथ्य को जिस स्पष्टता और गहराई से स्वामीजी प्रस्तुत करते हैं वर सचमुच विस्मयकारी है|

User reviews

  0/5