Sandeepany Sadhanalaya, Saki Vihar Road, Powai, Mumbai 400072 Mumbai IN
Chinmaya Vani
Sandeepany Sadhanalaya, Saki Vihar Road, Powai, Mumbai Mumbai, IN
+912228034980 https://cdn1.storehippo.com/s/5d76112ff04e0a38c1aea158/ms.settings/5256837ccc4abf1d39000001/webp/5dfcbe7b071dac2b322db8ab-480x480.png" vani@chinmayamission.com
978-81-7597-174-5 5e0f2097547075197c7f00ef Shrimad Bhagavad Geeta (हिंदी) https://cdn1.storehippo.com/s/5d76112ff04e0a38c1aea158/ms.products/5e0f2097547075197c7f00ef/images/5e1c32fbf814d263321ae873/5e1c32eaf814d263321ae668/webp/5e1c32eaf814d263321ae668.png

Click Here To DONATE

काल की धुन पर अनन्त का संगीत - भगवान् श्रीकृष्ण के रूप में हमारे ह्रदय में स्थित दिव्यता एवं हमारे मोहग्रस्त अहंकार के प्रतीक अर्जुन के मध्य एक संवाद - जीवन के लक्ष्य एवं इसे प्राप्त करने के साधन बताने वाली, जीवन जीने की द्विपक्षीय नियमावली | शोक और मोह से ग्रस्त अर्जुन का भीतरी व्यक्तित्व पूर्णरूप से विखण्डित हो चूका था - वह भगवान के आगे समर्पित हो जाता है भगवान कृष्ण उसके अज्ञान को दूर करते हैं और उसके विषाद को नष्ट कर देते हैं |

(The Holy Geeta)

S2005
in stockINR 0
Chinmaya Prakashan
1 1

Shrimad Bhagavad Geeta (हिंदी)

SKU: S2005
Publisher: Chinmaya Prakashan
ISBN: 978-81-7597-174-5
Language: Hindi
Author: Swami Chinmayananda
Binding: Hardbound
Tags:
  • Geeta, Vedanta, Spirituality

Description of product

Click Here To DONATE

काल की धुन पर अनन्त का संगीत - भगवान् श्रीकृष्ण के रूप में हमारे ह्रदय में स्थित दिव्यता एवं हमारे मोहग्रस्त अहंकार के प्रतीक अर्जुन के मध्य एक संवाद - जीवन के लक्ष्य एवं इसे प्राप्त करने के साधन बताने वाली, जीवन जीने की द्विपक्षीय नियमावली | शोक और मोह से ग्रस्त अर्जुन का भीतरी व्यक्तित्व पूर्णरूप से विखण्डित हो चूका था - वह भगवान के आगे समर्पित हो जाता है भगवान कृष्ण उसके अज्ञान को दूर करते हैं और उसके विषाद को नष्ट कर देते हैं |

(The Holy Geeta)

User reviews

  0/5